Gujarat Election: गुजरात में आप की सरकार बनने से आम आदमी को होंगे कई फायदें, राघव चड्ढा ने दी जानकारी

Jagran | 5 days ago | 24-11-2022 | 04:49 am

Gujarat Election: गुजरात में आप की सरकार बनने से आम आदमी को होंगे कई फायदें, राघव चड्ढा ने दी जानकारी

अहमदाबाद, जेएनएन। आगामी गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी जोर-शोर से प्रचार कर रही है।आम आदमी पार्टी राज्यसभा सांसद एवं गुजरात के सह-प्रभारी राघव चड्ढा ने गुरुवार को अहमदाबाद में मीडिया को संबोधित किया। मीडिया को संबोधित करते हुए राघव ने कहा कि पिछले कई वक्त से भारतीय जनता पार्टी के लिए गुजरात विधानसभा चुनाव एक वॉक-ओवर चुनाव होता था। यानी कि एक ऐसा चुनाव जिसमें ना प्रचार की जरूरत पड़ती थी, ना इश्तेहार की जरूरत पड़ती थी, ना दम झोंखने की जरूरत पड़ती थी, ना अपना खून-पसीना एक करने की जरूरत पड़ती थी।Gujarat Election: पहले चरण के लिए कुल 788 उम्मीदवार मैदान में, जानें कितने दागी उम्मीदवारों ने ठोकी है ताल यह भी पढ़ें राघव ने आगे कहा, 'हर बार भाजपा ऐसे ही अपना चुनाव जीत जाती थी। लेकिन जब से गुजरात में आम आदमी पार्टी और अरविंद केजरीवाल जी का आगमन हुआ है, तब से भाजपा की हवाइयां उड़ गई है, भाजपा की नींद उड़ गई है।' जिसके चलते आज भाजपा को प्रधानमंत्री जी, गृहमंत्री जी और अपने केंद्रीय मंत्रिमंडल के दर्जनों मंत्री को गुजरात के चुनाव मैदान में उतारने पड़ रहे हैं।'Gujarat Election: पहले चरण के 10 सबसे अमीर उम्मीदवार, राजकोट से भाजपा प्रत्याशी के पास 175 करोड़ की संपत्ति यह भी पढ़ें राघव ने भाजपा पर तीखा हमला करते हुए कहा, 'भाजपा को अपने 10 से ज्यादा मुख्यमंत्री गुजरात चुनाव में उतारने पड़ रहे हैं और उसी के साथ-साथ 150 से ज्यादा सांसद, अनगिनत एमएलए और अनगिनत मंत्री चुनाव मैदान में उतारकर पूरी जान जोंखनी पड़ रही है। और यह तो सिर्फ भाजपा का संगठन है, इसके अलावा उनकी जो सिस्टर कंसर्न है, वह सभी लगे हुए हैं कि कैसे भी करके आम आदमी पार्टी को रोको और अरविंद केजरीवाल जी को रोको। अब भाजपा को अरविंद केजरीवाल जी का इतना खौफ है कि उनको अपनी सारी ताकत गुजरात के चुनावी मैदान में उतारनी पड़ रही है।'Gujarat Chunav 2022: 'जीतने के लिए मेरा नाम ही काफी है', लेडी डॉन के बेटे कांधल जडेजा ने दिया बयान यह भी पढ़ें उन्होंने आगे कहा किभाजपा की गुजरात में चुनावी कैंपन पर हमला करते हुए राघव ने कहा, 'भाजपा का मुख्य तौर पर इस चुनाव में एक ही कैंपेन है कि डबल इंजन की सरकार बनाओ। यानी ऊपर भी भाजपा हो और राज्य में भी भाजपा हो। आज मैं आपको डबल इंजन सरकार की सच्चाई बताना चाहता हूं। पहली बार 2014 में गुजरात में डबल इंजन की सरकार बनी। 2014 से लेकर 2022 तक महंगाई रूपी राक्षस ने गुजरात एवं देश के आम आदमी की जेब पर डाका डाला है। इस चुनाव का सबसे बड़ा मुद्दा महंगाई है। जब 2014 में डबल इंजन की सरकार बनी तब रोजमर्रा जिंदगी की जो चीजें थी उनके दाम दो से तीन गुना बढ़ गए।'राघव ने महंगाई के मुद्दे को उठाते हुए कहा, '2014 में पेट्रोल ₹60 में बिकता था, डबल इंजन की सरकार के बाद आज 2022 में सामान्य व्यक्ति को पेट्रोल ₹100 लीटर खरीदना पड़ रहा है। 2014 में डीजल ₹50 प्रति लीटर बिकता था और आज डबल इंजन सरकार की बदौलत ₹90 प्रति लीटर का बिक रहा है। LPG गैस का सिलेंडर जो आप और हम अपनी रसोई में इस्तेमाल करते हैं खाना बनाने के लिए, वह 2014 में ₹500 प्रति सिलेंडर मिलता था, लेकिन आज 2022 में डबल इंजन सरकार की बदौलत ₹1060 प्रति सिलेंडर मिलता है।'Gujarat: 32 साल से पबुभा मानेक का अभेद्य किला है 'द्वारका', कांग्रेस निर्दलीय या BJP जिस पार्टी से लड़े जीते यह भी पढ़ें उन्होंने आगे कहा कि2014 में प्लेटफार्म की टिकट ₹5 प्रति व्यक्ति मिला करती थी, आज वह प्लेटफार्म की साधारण टिकट ₹5 से बढ़कर ₹50 की हो गई है। 2014 में देसी घी का 1kg का डिब्बा ₹350 का आता था और आज वो डिब्बा ₹350 से बढ़कर ₹650 का हो गया है।दूध की एक थैली ₹36 प्रति लीटर की आती थी और आज वह साधारण दूध की थैली ₹36 से बढ़कर ₹60 प्रति लीटर की हो गई है। जब कोई मरीज इलाज करवाने प्राइवेट डॉक्टर के पास जाता था तो, वह डॉक्टर ₹300 लिया करता था, आज वो प्राइवेट डॉक्टर डबल इंजन सरकार की महंगाई की बदौलत ₹800 प्रति पेशेंट ले रहा है। CNG गैस पहले ₹40 प्रति यूनिट मिला करता था और वह CNG गैस आज बढ़कर ₹75 प्रति यूनिट हो गया है।Gujarat Vidhan Sabha Chunav 2022: सूरत में इनोवा कार से मिले 75 लाख रुपये, पुलिस को देखकर भागे कांग्रेस नेता यह भी पढ़ें गुजरात के हर घरों में इस्तेमाल होने वाला सिंग तेल का बड़ा डिब्बा 2014 में ₹1000 में आता था, आज डबल इंजन सरकार की बदौलत वह सिंग तेल का ₹1000 का डिब्बा ₹2800 का हो गया है। यह है डबल इंजन सरकार की डबल ट्रिपल महंगाई। जो भाजपा वालों ने गुजरात के लोगों के सर पर लाकर खड़ी की है।राघव ने कहा कि अगर आज गुजरात के लोग इस महंगाई से बचना चाहते हैं तो उनके पास केवल एक ही उपाय है और वह है अरविंद केजरीवाल, आम आदमी पार्टी और झाड़ू। एक तरफ डबल इंजन सरकार की महंगाई है और दूसरी तरफ अरविंद केजरीवाल जी का हर गुजराती परिवार के लिए हर महीने ₹30,000 की सौगात। आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद गुजरात में 1 मार्च से हर परिवार की बिजली 300 यूनिट प्रति महीने मुफ्त हो जाएगी, यानी कि महीने का ₹4000 बचेगा। परिवार में अगर दो बच्चे हैं तो उन्हें सरकारी स्कूलों में निशुल्क विश्वस्तरीय शिक्षा मुहैया कराई जाएगी, यानी कि हर परिवार के ₹10,000 जो शिक्षा पर खर्च होते थे वह बच जाएंगे।Morbi Bridge Case: सभी पुलों का कराएं सर्वे, मुआवजा राशि बढ़ाए राज्य सरकार; नगर पालिका का अधिकारी दोषी- HC यह भी पढ़ें उन्होंने यह भी कहा कि आप सरकार में दवा-दवाई, इलाज, ऑपरेशन सब मुफ्त हो जाएगा। बढ़िया मोहल्ला क्लीनिक बनेंगे, बढ़िया सरकारी अस्पताल बनेंगे, ₹100 की दवाई हो या ₹1,00,000 का ऑपरेशन हो, सारा खर्च गुजरात की केजरीवाल सरकार उठाएगी। यानी कि हर परिवार का हर महीने स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च होने वाला ₹7000 बचेगा। इसी के साथ यदि एक परिवार में 2 बेरोजगार युवा है तो जब तक उनको सरकार रोजगार नहीं दिला देती तब तक हर बेरोजगार को ₹3000 प्रति महीने बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा।Gujarat Chunav 2022: गुजरात में सबसे कम उम्र में MLA बनने का रिकॉर्ड, कौन हैं गृह मंत्री हर्ष सांघवी? यह भी पढ़ें यानी प्रति परिवार ₹6000 का फायदा होगा। इसी के साथ अरविंद केजरीवाल जी ने महिलाओं को भी सौगात देने का फैसला किया है। महिलाओं की आर्थिक मदद के लिए हर महिला को ₹1000 सम्मान राशि दी जाएगी। यानी कि घर में यदि 3 महिलाएं हैं तो हर घर को ₹3000 का मुनाफा होगा। आम आदमी पार्टी की सारी सौगातो को हम जोड़ दें तो हर गुजराती परिवार को प्रति महीने ₹30,000 का फायदा अरविंद केजरीवाल जी की सरकार देने जा रही है।राघव ने कहा, 'एक तरफ भाजपा की डबल इंजन की डबल महंगाई वाली सरकार है और दूसरी तरफ अरविंद केजरीवाल जी की नई इंजन की ₹30000 मुनाफे वाली सरकार है। आज यह दोनों चीजें गुजरात की जनता के सामने मौजूद हैं और जनता को फैसला करना है। आज गुजरात के हर सर्वे में यह साफ दिख रहा है कि इस बार का मुकाबला भाजपा बनाम आम आदमी पार्टी का है। कांग्रेस कहीं दूर दूर तक भी नजर नहीं आती, क्योंकि उसकी 5 से भी कम सीटें आ रही है।'उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी बनाम भाजपा की लड़ाई में आम आदमी पार्टी आगे निकलती नजर आ रही है। क्योंकि कांग्रेस के पुराने मतदाता आम आदमी पार्टी को वोट देते हुए नजर आ रहे हैं और भाजपा के मतदाता और तो और भाजपा के कार्यकर्ता भी इस बार आम आदमी पार्टी को वोट दे रहे हैं। और ऐसे लोग जिन्होंने चुनाव के आखिरी हफ्ते तक अपना मन नहीं बनाया होता है कि, किसको वोट दें वह लोग भी माहौल देखकर फैसला कर चुके हैं कि इस बार आम आदमी पार्टी को ही वोट देना है। तो इस बार सभी जाति धर्म और बिरादरी के लोग आम आदमी पार्टी को परिवर्तन के नाम पर वोट देने जा रहे हैं।बताते चलें कि राघव ने यह भी कहा किजो दिल्ली में कमाल हुआ और जो पंजाब ने करके दिखाया, वही अब गुजरात में भी होने जा रहा है 27 साल पुरानी भ्रष्ट और अहंकारी सरकार को गुजरात की जनता उखाड़ कर फेंक देंगी और परिवर्तन लाएगी। परिवर्तन मतलब आम आदमी पार्टी, परिवर्तन मतलब अरविंद केजरीवाल, परिवर्तन मतलब झाड़ू का निशान। मैं आज गुजरात के सभी मतदाताओं को अपील करना चाहता हूं कि सभी लोग चुनाव वाले दिन मतदान केंद्र जाकर अपनी जिम्मेदारी निभाए और अपनी तकदीर के लिए और अपने बच्चों की तकदीर के लिए सही फैसला लेते हुए इस बार परिवर्तन के नाम पर आम आदमी पार्टी को वोट दें।यह भी पढ़ें:Gujarat Assembly Elections 2022: टीम इंडिया की जर्सी देख रवींद्र जडेजा पर गुस्साए प्रशंसक, बोले- शर्म की बात

Google Follow Image