Gujarat Election 2022: गुजरात में इन 7 विधायकों को हराना होगा मुश्किल, 5 से भी ज्यादा बार जीत चुके हैं चुनाव

Jagran | 6 days ago | 23-11-2022 | 01:11 am

Gujarat Election 2022: गुजरात में इन 7 विधायकों को हराना होगा मुश्किल, 5 से भी ज्यादा बार जीत चुके हैं चुनाव

अहमदाबाद, एजेंसी। गुजरात विधानसभा चुनाव नजदीक आते देख सभी पार्टियों ने चुनाव जीतने के लिए अपनी ताकत झोंक दी है। सत्तारूढ़ भाजपा हो या कांग्रेस और आप सभी अपनी-अपनी जीत का दावा भी करने लगे हैं। तीनों प्रमुख पार्टियों ने प्रचार अभियान में भी कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। इस बीच पांच या इससे अधिक बार जीत हासिल करने वाले कम से कम सात विधायक अगले महीने होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव में फिर से किसमत आजमाएंगे, जिन्हें हरा पाना आसान नहीं होगा। भाजपा ने पांच नेताओं को एक और कार्यकाल के लिए मैदान में उतारकर उन पर विश्वास जताया है, जबकि एक पूर्व भाजपा नेता निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले हैं।Gujarat: 32 साल से पबुभा मानेक का अभेद्य किला है 'द्वारका', कांग्रेस निर्दलीय या BJP जिस पार्टी से लड़े जीते यह भी पढ़ें भाजपा ने पांच ऐसे नेताओं को मैदान में उतारा है जो पिछले 5 चुनाव जीतते आ रहे हैं। इन पांच उम्मीदवारों में योगेश पटेल (मंजलपुर सीट), पबुभा मानेक (द्वारका), केशु नकरानी (गरियाधर), पुरुषोत्तम सोलंकी (भावनगर ग्रामीण) और पंकज देसाई (नदियाद) शामिल हैं। उनके अलावा, भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) के संस्थापक छोटू वसावा और पूर्व भाजपा नेता मधु श्रीवास्तव निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं। बता दें कि मधु का भाजपा ने टिकट काट दिया था।Gujarat Vidhan Sabha Chunav 2022: सूरत में इनोवा कार से मिले 75 लाख रुपये, पुलिस को देखकर भागे कांग्रेस नेता यह भी पढ़ें इन नेताओं का दशकों से पार्टी कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ तालमेल स्थापित करने में कोई तोड़ नहीं है। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि जातिगत समीकरण भी उनके पक्ष में हैं, लेकिन इससे भी अधिक यह उनके व्यक्तिगत नेतृत्व गुण हैं जो उन्हें हर बार जीत दिलाते हैं।पटेल, मानेक और वसावा सात बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं और आठवीं बार चुनाव लड़ रहे हैं। नकरानी और श्रीवास्तव ने छह चुनाव जीते हैं और सातवीं बार जीतने की उम्मीद है। देसाई और सोलंकी पांच चुनाव जीत चुके हैं और छठी बार चुनावी दौड़ में हैं। अहमदाबाद के राजनीतिक विश्लेषक शिरीष काशीकर ने समाचार एजेंसी पीटीआई से कहा कि जमीनी स्तर पर इन नेताओं का काम करने का अनुभव और दशकों से उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ विशेष संबंध उन्हें जीत दिलाने में अहम रोल निभाते हैं।Morbi Bridge Case: सभी पुलों का कराएं सर्वे, डबल करें मुआवजा राशि- राज्य सरकार को हाई कोर्ट की फटकार यह भी पढ़ें गुजरात में अगले महीने चुनाव होने हैं। 182 सदस्यीय गुजरात विधानसभा के लिए दो चरणों में 1 और 5 दिसंबर को मतदान होगा और मतगणना आठ दिसंबर को होगी।यह भी पढ़ें-5G in India: दिल्ली-एनसीआर सहित इन शहरों तक पहुंची 5G सेवा, जानिए आपको कैसे मिलेगी सुविधाGujarat Chunav 2022: गुजरात में सबसे कम उम्र में MLA बनने का रिकॉर्ड, कौन हैं गृह मंत्री हर्ष सांघवी? यह भी पढ़ें Fact Check : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बेटी के नाम पर फिर से वायरल हुई महिला अफसर की तस्वीर

Google Follow Image