Gujarat Assembly Election 2022: पीएम मोदी की सभा में ड्रोन उड़ाने पर 3 लोग गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

Jagran | 5 days ago | 24-11-2022 | 11:33 am

Gujarat Assembly Election 2022: पीएम मोदी की सभा में ड्रोन उड़ाने पर 3 लोग गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

अहमदाबाद, आनलाइन डेस्क। Gujarat Assembly Election 2022: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की चुनावी सभा में ड्रोन उडाने वाले 3 फोटोग्राफर को अहमदाबाद ग्रामीण पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। प्रधानमंत्री की सुरक्षा के लिए जारी दिशा-निर्देश व निषेधाज्ञा के उल्लंघन को लेकर यह कार्रवाई की गई।भाजपा प्रत्याशियों के प्रचार के लिए गुजरात आए पीएम मोदी की गुरुवार दोपहर 3 बजे अहमदाबाद जिले के बावला कस्बे में सभा थी। जनसभा के दौरान ड्रोन उड़ाने की बात पुलिस के ध्यान में आने के बाद 3 फोटोग्राफर को पुलिस ने पकड़ लिया।भाजपा की ओर से इन फोटोग्राफर को नियुक्त किया गया था, लेकिन प्रधानमंत्री की सुरक्षा तथा ड्रोन उड़ाने के संबंध में जारी निषेधाज्ञा के उल्लंघन को देखते हुए अहमदाबाद ग्रामीण पुलिस ने त्वरित कार्यवाही कर 3 फोटोग्राफर की धरपकड़ की है। फिलहाल, पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।ये भी पढ़ें: जी-20: देश के 50 शहरों में होंगी 200 बैठकें, भारत के सामने नेतृत्व क्षमता साबित करने का मौकापीएम मोदी ने बावला में एक बड़ी सभा को किया संबोधित, समाजसेविका लीलाबा को याद करते भावुक हुए PM Modi यह भी पढ़ें अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट अहमदाबाद ने बुधवार को एक नोटिस जारी किया, जिसमें कहा गया कि सभा के पास 2 किमी के पूरे क्षेत्र को 'नो ड्रोन फ्लाइंग जोन' के रूप में अधिसूचित किया गया है। पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपियों की पहचान निकुल रमेशभाई परमार, राकेश कालूभाई भरवाड़ और राजेश कुमार मांगीलाल प्रजापति के रूप में हुई है।Gujarat Election: राघव चड्ढा ने साणंद में रोड शो में लिया हिस्सा, कहा- AAP बन गई गुजरात जनता की पहली पसंद यह भी पढ़ें एक आधिकारिक बयान के अनुसार, स्थानीय अपराध शाखा, अहमदाबाद ग्रामीण के कांस्टेबल अनूप सिंह भरतसंग ने सभा मैदान के पास मुख्य सड़क से माइक्रोड्रोन चलाने वाले कुछ लोगों की पहचान की। ड्रोन के संचालकों को पकड़ने और उन्हें नीचे उतारने के लिए कहने पर, तीनों व्यक्तियों ने इसका पालन किया और इसे नीचे ले गए।बम का पता लगाने और निपटान दस्ते (BDDS) ने तुरंत ड्रोन की जांच की और पुष्टि की कि ड्रोन केवल फिल्माने के लिए है और इसमें एक आपरेटिंग कैमरा था और इसमें कोई विस्फोटक या कोई अन्य हानिकारक वस्तु नहीं थी।बीडीडीएस टीम के अनुसार, आरोपियों के पास कोई प्रतिबंधित वस्तु नहीं मिली है और वे सभा के बाहर थे, जब वे ड्रोन का संचालन कर रहे थे।Gujarat Election: पहले चरण के लिए कुल 788 उम्मीदवार मैदान में, जानें कितने दागी उम्मीदवारों ने ठोकी है ताल यह भी पढ़ें आगे की पूछताछ पर, आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे वहां सामान्य फोटोग्राफी के लिए आए थे और उन्हें नहीं पता था कि इलाके में ड्रोन प्रतिबंधित हैं। अहमदाबाद जिला पुलिस ने कहा कि तीनों आरोपियों का कोई पुलिस रिकार्ड या पिछला आपराधिक इतिहास नहीं है और वे किसी भी राजनीतिक दल या संगठन से जुड़े नहीं हैं।प्रथम दृष्टया व्यक्तियों को किसी भी नुकसान के लिए ड्रोन का उपयोग करने का इरादा नहीं लगता है, लेकिन पुलिस मामले में पूरी तरह से पूछताछ और जांच कर रही है। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।Gujarat Election: पहले चरण के 10 सबसे अमीर उम्मीदवार, राजकोट से भाजपा प्रत्याशी के पास 175 करोड़ की संपत्ति यह भी पढ़ें ये भी पढ़ें: Gujarat Election: पहले चरण के लिए कुल 788 उम्मीदवार मैदान में, जानें कितने दागी उम्मीदवारों ने ठोकी है तालGujarat Chunav 2022: 'जीतने के लिए मेरा नाम ही काफी है', लेडी डॉन के बेटे कांधल जडेजा ने दिया बयान यह भी पढ़ें ये भी पढ़ें:Fact Check: हिमाचल और गुजरात चुनाव के Exit Poll पर गुजरात चुनाव के खत्म होने तक प्रतिबंध

Google Follow Image